About US

२०११ की जनगणना नुसार भारत में कुल ४६ लाख ५१ हजार ७५३ जैन बांधव हे लेकिन यह संख्या २ करोड़ तक हो सकती है ! ऐसा विकल्प नही जिससे जैनोकी कुल संख्या निश्चित हो सखे, इसी भावनासे Vishawa jain Samaj बनाया गया है! इस App को हर एक जैन भाई बहन तक पहुचने की जिन्मेदारी हम सभी  की है ताकि जैनोकी निश्चित आबादी मालूम हो ! यह App केवल धर्म प्रभावना की भावना से बनाया गया है ! कृपया इस App में Register कर के अपना सहयोग प्रदान करे ! धन्यवाद ...!

सरकारी आकड़ोंनुसार भारत में जैन आबादी :

एकूण : ४४५१७५३     

          पुरुष : २२७८०९७     महिला : २१७३६५६

          शहरी : ३५४६९४४    ग्रामीण : ९०४८०९

राज्यनुसार

         १. महाराष्ट्र : १४,००,३४९    २. राजस्थान : ६,२२,०२३     ३. गुजरात : ५,७९,६५४    ४. म.प्र. : ५,६७,०२८     ५. कर्नाटक : ४,४०,२८०    ६. उ.प्र. : २,१३,२६७    ७. दिल्ली: १,६६,२३१   

         ८. तमिलनाडू :  ८,९२,६५९    ९. छत्तीसगढ  :  ६,१५,१०१०     १०. प. बंगाल : ६०,१४१



10,000 से 60,000 के बीच जैन आबादी वाले राज्य :

         १. आंध्र :  ५३,८४९    २. हरियाणा : ५२,६१३    ३. पंजाब : ४५,०४०     ४. असम : २५,९४९    ५. बिहार : १८,९१०     ६. झारखंड : १४,९७४


10,000 से कम जैन आबादी वाले राज्य :

          १. ओड़िसा  : ९,४२०    २. उत्तराखंड : ९,१८३    ३. केरला : ४,४८९     ४. नागालैंड : २,६५५     ५. जम्मू काश्मीर : २,४९०     ६. चंडीगड : १,९६०     ७. हिमाचल : १,८०५    ८.मणिपूर : १,६९२

          ९. पौण्डिचेरी : १,४००    १०. दादरा नगर हवेली : १,१८६     ११. गोवा : १,१०९     १२. अरुणाचल : ७७१     १३. मेघालय : ६२७     १४. मिझोराम : ३७६    १५. सिक्कीम : ३१४    १६. दिव दमन : २८७

          १७. अंदमान निकोबार : 31    १८. लक्श्वदीप : ११



समस्त जानकारी भारत मे फरवरी 2014 में हुऐ सर्वे के अनुसार। :

         - जैन मंदिर : १६५७०     - पाषण की प्रतिमायें : २०७८९६     - जैन ऊपाश्रय धर्म स्थानक : १९५६७     - जैन समाज संचालित अस्पताल : १४५    - जैन समाज संचालित स्कुल कॉलेज : ६८

          - आंशिक रूप से जैन समाज संचालित स्कुल कॉलेज : १२३४     - जैन समाज द्वारा संचालित जीव रक्षा केन्द्र : १४०८     - साधु भगवंत : ५६७८     - साध्वी जी - महासती जी : २३७६८   

         - जैन. N.G.O : ३६०० के करीब  - जैन समाज की प्रा लिमिटेड कंपनिया : ३४००     - शेर बजार मे जैनो की हिस्सेदारी : ३४ %     - देश के इन्कम टैक्स में जैन समाज का योगदान : २३ %

         - जैन मालिक एवं जैन संस्थानो के द्वारा दी जा रही प्रत्यक्ष रोजगारी :   २.५ करोड